Salt (namak) Fayde aur Nuksaan in Hindi

नमक के फायदे गुण लाभ और नुकसान -Salt (namak) benefits and side effects in hindi

नमक का जीवन में बहुत उपयोग है। दाल या सब्जी में नमक ज्यादा हो जाए तो नुकसान और कम हो तो भी नुकसान।इसके अलावा चेहरे के लिए नमक के फायदे भी बताये गए हैं। पढ़िए सुबह शाम खाये जाने वाले नमक के फायदे और लाभ के बारे में. 51 salt ke benefits in hindi

1. नमक को सीलन से बचाने केलिए जिस बर्तन में नमक रखें, उसमें पहले ब्लाटिंग पेपर रख दें। इससे नमक ठीक बना रहता है।

2. नमक को सीलन सेसे बचाने के लिए चुटकी भर आरारोट नमक दानी में डाल दीजिए। मर्तबान में कुछ चावल डाल देने से नमक सीलन से सुरक्षित रहता है

3.नमक के मर्तबान में कुछ चावल डाल देने सेनमक सीलन से सुरक्षित रहता हैतथाढेले भी नहीं बनते।

4. बर्तनों में से प्याज की गन्ध मिटाने के लिए उसे नमक के पानी से साफ करें।

5. साधारण कड़ाही या फ्राइंग पैन को निर्लेप यानी नानस्टिक बनाने के लिए आप उसमें कुछ देर तक नमक को भूनें फिर नमक निकाल कर तेल या घी डाल कर कुछ भी तलें, पंैदे पर कोई चीज नहीं चिपकेगी।

6. जिन कपड़ों को कलफ लगी हो वे इस्त्री से चिपक जाते हैं। कपड़ों को दी जाने वाली कलफ में अगर एक चम्मच नमक डाल दिया जाये तो कपड़ा इस्त्री से बिल्कुल ही नहीं चिपकेगा।

7. फर्नीचर पर लगे स्याही के दाग यदि न छूट रहे हांे तो नमक घुले पानी में कपड़ा भिगो कर दागों पर फेरना चाहिये।

8. जले हुए बरतनों को नमक डालकर माँजने से साफ हो जाते हैं।

9. बरसात के दिनों में कुटी हुई लाल मिर्च का खराब होने से बचाने के लिए उनमें तीन-चार डली नमक की मिला दीजिये। मिर्च खराब नहीं होगी।

10. कान में यदि कीड़ा या मच्छर घुस गया हो तो गर्म पानी में जरा-सा नमक मिलाकर उसकी बूंदे कान में टपकाने से कीड़ा बाहर आ जायेगा।

11. प्याज-लहसुन काटने की गन्ध चाकू या हाथ पर से नहीं जा रही हो तो नमक रगड़िये।

12. गैस के चूल्हे या स्टोव पर विभिन्न तरल पदार्थ या दूध गिरने से जलने की गन्ध बैठ जाये तो बारीक पिसा नमक घिस कर सफाई की जाये तो गन्ध जाती रहेगी तथा स्टोव व गैस का चूल्हा भी चमक जायेगा।

13. भिण्डी, कटहल, गोंदे (लसौड़े) जैसी लार वाली सब्जियाँ काटते समय नमक हाथ में लगा लें तो लार का असर कम होगा और सब्जी आसानी से कट जाएगी तथा हाथ लार से चिपचिपाएँगे नहीं और अन्त में भी नमक से ही रगड़ कर हाथ साफ कर लें।

14. अचार डालते समय या अचार परोसते समय या तलते समय हाथ तेल की चिकनाई से सन गये हों तो बारीक पिसा नमक हाथों पर लगाकर मलें, हाथ साफ हो जाएँगे।

15. यदि कपडे (रेशमी हों या सूती) रंग छोड़ते हों तो नमक घुले पानी में कपड़े डालें कुछ समय बाद निकाल कर सुखा दें। ज्यादा देर नमक के घोल में न पड़ा रहने दें कपड़ा कभी भी रंग नहीं छोड़ेगा।

16. लालटेन के मिट्टी के तेल में यदि थोड़ा नमक डाल दिया जाये तो रोशनी तो ज्यादा चमकीली मिलती ही है, साथ ही मिट्टी का तेल भी कम जलेगा।

17. आपके नहाने का तौलिया तथा कपड़े हल्के रोयंेदार बने रहें, इसके लिए धुलाई के बाद उनको कुछ देर तक नमक मिले पानी में पड़ा रहने दें फिर धोकर सुखा दें। तौलिया हमेशा तेज धूप में सुखाएँ। इससे उसकी चमक बनी रहेगी।

18. यदि आप नये मोजे खरीदकर लाए हों तो प्रथम दिन पहनने से पूर्व उन्हें एक रात नमक मिले पानी में रखिये, वे अधिक दिन तक चलेंगे।

19. गर्म पानी में नमक डालकर उसमें कुछ देर झाडू रखने से सीकें कड़ी होकर ज्यादा दिनों तक चलती हैं।

20. कढ़ी जब खदकने लगे (उबाल आने लगे) तब नमक डालें, कढ़ी कभी नहीं फटेगी।

21.जले पर तुरन्त नमक मसल दें, न दाग पड़ेगा और न ही फफोले पड़ेंगे। जलन भी शान्त हो जाएगी।

22. सर्दियों में नहाने के पानी में एक चम्मच नमक डाल दें तो त्वचा कान्तिवान बनी रहेगी।

23. पिलपिंलेटमाटरों को सख्त करने के लिए उन्हें बर्फ वाले पानी में नमक डाल कर डुबो दीजिये। दस मिनट में सख्त हो जाएँगे।

24. यदि कागज के फूलों पर धूल लगी हो तो उन्हें एक कागज की थैली में रखिए, जिसमें थोड़ा नमक डाला हो। अब थैलीको जोर से हिलाइए धूल निकल जाएगी और फूल एकदम नए दिखाई देगे ।

25. इमली में मामूली नमक डालकर इसे बन्द ढक्कन की बरनी में रखिए इससे वह खराब न होगी और उसमें जीव-जन्तु भी उत्पन्न नहीं होंगे।

26. बेहोषी की अवस्था में नमक के जल को नाक में डालने से बेहोशी दूर हो जाती है।

27 गर्म पानी में नमक मिलाकर कपड़े धोने से कपड़े जल्दी साफ व सफेद हो जाते है।

28 कड़े दूध में नमक मिलाने से मक्खन शीघ्र प्राप्त किया जा सकता है।

29 एल्युमिनियम के बर्तन में यदि दाग पडे हों तो पिसे हुए नमक से रगड़कर धोने सेदाग छूट जाते हैं।

30. आप अपना वाशबेसिन नमक मिले गर्म पानी से धोएँ, वह शीघ्र चमक उठेगा

31. आग लगने की स्थिति में तुरन्त नमक व पानी का गाढ़ा घोल छिड़क दीजिये। जिस वस्तु पर यह घोल पडेगा, वह कुछ देर के लिए आग नहीं पकड़ सकेगी, क्यांेकि नमक का यह घोल उसे अज्वलनशील बना देगा।

32.चीनी मिट्टी के बर्तनों को नमक मिले पानी से साफ करने से उन पर पड़े धब्बे आसानी से साफ हो जाते हैं।

33.यदि सिर में दर्द हो रहा हो तो थोड़ा-सा नमक खाकर ऊपर से ठण्डा पानी पीने से सिर दर्द ठीक हो जाता है।

34. यदि आधे सिर में दर्द हो रहा हो तो आधा चम्मच शहद में आधा चम्मच नमक मिलाकर चाटें, आराम मिलेगा।

35. यदि जहरीले बिच्छू या मक्खी ने काट लिया है तो उस स्थान पर पानी डालकर नमक रगडंे। इससे सूजन नहीं आयेगी तथा दर्द एवं जलन में भी कुछ आराम मिलेगा।

36. नमकीन अचार खराब हो जाए तो फफँूद हटा कर थोड़ी-सी पिसी चीनी बरुक दें। अगर मीठा अचार खराब हो जाए तो फफँूद हटा कर थोड़ा-सा नमक बुरक दें इससे अचार सुरक्षित हो जाएगा।

37. किसी बर्तन में नमक मिला पानी डालकर उसमे टूथ बु्रश डाल देने से टूथ बु्रश जल्दी खराब नहीं होता।

38. घर में रोगी हो तो दवाइयों, उल्टी आदि की गन्ध हो जाती है अतः फिनायल या नमक और सोडा पानी में मिलाकर पोछा लगाएँ।

39.कूडे़दान से बू आती हो तो उसके पेंदे में नमक छिडक दें।

40. नालियों, सीवर, गटर आदि से उठने वाली दुर्गन्ध को दूर करने के लिए एक किलो पिसा नमक,250 ग्राम पानी व आधा लीटर घासलेट का मिश्रण डाल दें। बदबू दूर होने के साथ-साथ कीड़े-मकौड़े भी मर जाएँगे।

41. पिसी हुई हल्दी, मिर्च, खटाई अथवा धनिया आदि में जाले व कीड़ेपड़ने से बचाने के लिए प्रति एक किलो में 50 ग्राम नमक डालकर अच्छी तरह मिला दें।

42. एल्युमिनियम के बर्तनों को चमकाने के लिए विम पाउडर मेंथोड़ा-सा नमक मिला लें। 43. सब्जियों को उबालते समय चुटकी भर नमक मिला देने से रंग वैसा ही रहता है।

44.इमली को संग्रहीत करने के लिए 1 कप पानी में हींग का चूरा और नमक का घोल बनाकर इमलियों पर छिड़क कर धूप में 3-4 दिन सुखा लें।

45.मोमबत्ती को देर तक उपयोग में लाने के लिए उस पर थोडा-सा नमक मल दें।

46. यदि किचेन का वेस्ट पाइप (गंदा पानी बहाने वाला पाइप) ग्रीज या अन्य चिकनी चीजों से जाम (ब्लाक) हो गया हो तो ऊपर से उस पाइप में नमक, एक कप सोडे का बाईकार्बोनेट खौलते पानी में मिलाकर डालें। पाइप बिल्कुल साफ हो जायेगा।

47. लोहे के बर्तन पर जलने का निशान मिटाने के लिए नमक और सिरके का गाढ़ा घोल गर्म करके ठण्डे बर्तन पर रगड़ें और फिर धो डालें।

48.ताँबे व पीतल में हरे रंग के धब्बे बन जाते हैं। इन दागों को नौसादर नमक मिले घोल से मिटाया जा सकता है।

49. खाने की मेज पर पिसा नमक छिड़ककर गीले कपड़े से पोंछे। इससे मक्खियाँ नहीं भिनभिनाएँगी।

50. बिस्कुट को ताजा और कुरकुरा बनाए रखने के लिए एक चम्मच नमक कपड़े में बाँधकर जार में डालें और उस जार को एयर टाईट बन्द कर दें।

51.लालटेन का शीशा काला हो गया है तो लालटेन की टंकी में सेंधा नमक डाल दें।