Lips Treatment Hindi

hotho ko khubsurat bananne ke gharelu nuskhe

Lips treatment HIndi – होंठों का फटनाहोंठों का फटनारोग- जाड़े के मौसम में अगर पेट में गर्मी हो जाती है तो होंठ फट जाते हैं। कभी-कभी अत्यधिक गर्मी व लू के कारण भी होंठ फट जाते हैं।  रोग का कारण- इधर-उधर की चीजें व तेज मिर्च-मसाले वाली चीजें खाने से पेट में गर्मी उत्पन्न हो जाती है। इस कारण होंठ फट जाते हैं। इसके अलावा सर्दी के मौसम में अत्यधिक सर्दी व पेट में गर्मी के कारण भी होंठ फट जाते हैं। होंठों को हमेशा गर्मी व शीत से बचाना चाहिए।

रोग के लक्षण- होठ फट जाते हैं और वे लाल सुर्ख हो जाते हैं। होंठों पर पपड़ियां सी जम जाती है। जिन्हें छूने मात्र से काफी दर्द होता है।

Lips Treatment Hindi

hotho ko khubsurat bananne ke gharelu nuskhe

Lips Care treatment hindi

1 मोम की घी में पिघलाकर लगाने से होंठ नहीं फटते।

2 होंठों का कालापन दूर करने के लिए रात को सोते समय होंठ साफ करके चैथाई चम्मच मलाई में कुछ बूँदें नीबू के रस की डालकर होंठ पर लगाएँ।

3 जब भी होंठ शुष्क व फटे हुए हों तो उन पर शहद में कुछ बूँदें गुलाब जल की डाल कर लगाएँ। होंठ बहुत जल्द मुलायम हो जाएँगे।

4 होंठ काले तथा खुरदरे, पपड़ी वाले हों तो उन पर पिसा हुआ सुहागा, शहद में मिलाकर लगाने से लाभ होगा। मक्खन लगाने से भी लाभ होगा।

5 भोजन के उपरान्त होंठो को अच्छी तरह धोकर साफ तौलिए से पोंछिए तथा कोई कोल्ड क्रीम या बोरोलीन या मलाई लगाएँ।

6 यदि आप माँसाहारी है तो होंठों पर अण्डे की जर्दी का लेप दस-पन्द्रह मिनट लगाकर गुनगुने पानी से साफ कर लें।

7 रात्रि को सोने से पूर्व ग्लिसरीन, नीबू एवं गुलाब जल का मिश्रण होंठों पर लगाइए।

8 जैतून के तेल की होंठों पर मालिश करें, होंठ मुलायम हो जाएँगे।9 मक्खन में शुद्ध केसर मिलाकर लेप करने से होंठों की यह परेशानी दूर होती है।

10 नहाने से पहले हथेली में चैथाई चम्मच मूँगफली का तेल लेकर अँगुली से हथेली में रगड़े और फिर होंठों पर इस तेल की मालिश करें। होंठों के लिए यह लाभप्रद है।

11 सोने से पहले सरसों का तेल नाभि पर लगाने से होंठ नहीं फटते।

12 होंठों पर मौसमी का रस नित्य तीन बार लगायें। इससे होंठों का कालापन दूर होकर होंठ प्राकृतिक रूप से लाल रहते हैं।

13 घी में जरा-सा नमक मिलाकर होंठों व नाभि पर लगाने से होंठ फटना बन्द हो जाते है।

14 5 बादाम नित्य सुबह-शाम खाने से होंठ नहीं फटते। 15 नित्य दो बार होंठों पर ग्लिसरीन लगाने से लाभ होता है। 16 होंठों पर पपड़ी जमकर उतरती है, दर्द करती है, होंठ फटते हैं तो इलायची पी कर मक्खन में मिलाकर नित्य दो बार कम-से-कम सात दिन लगायें।

17 गुलाब के एक फूल को पीसकर उसमें थोड़ी-सी मलाई या दूध पर जमने वाली मलाई मिलाकर होंठों पर मलकर लेप कर दें। आधे घंटे बाद धो दें। कुछ दिनों के प्रयोग से ही आपके होंठों की रंगत गुलाब जैसी सुन्दर हो जायेगी, होंठ नहीं फटेंगे।

18 पिसा हुआ नमक लौनी घी में मिलाकर होंठों पर मलने से होंठों का फटना रूक जाता है और होंठ मुलायम हो जाते हैं।

19 घी को नाभि में या होंठों पर लगाने से होंठों का फटना बन्द हो जाता है। 20 नाभि में तेल की मालिश की जाएं तो होंठ नहीं फटते है और फटे होंठ ठीक हो जाते हैं।

21 तरबूज के बीजों को पानी में पीसकर होंठ व जीभ पर लगाने से होंठों का फटना बन्द हो जाता है।

22 मक्खन में नमक मिलाकर होंठों पर लगाने से फटे होंठ बहुत जल्द ठीक हो जाते हैं। 23 खीरे के एक टुकड़े को कुचलकर निचोड़ लें। इस रस को होंठों पर लगाने से होंठों का फटना बन्द हो जाता है। 24 पेट साफ रखने से होंठ नहीं फटते।