Dandruff (रुसी) Treatment Hindi

Best 21 Home Remedies For Dandruff

Dandruff (रुसी) hone Karna – यह एक प्रकार का फंफूदी व संक्रमण है। अगर बालों की सफाई सही ढंग से न हो पाये तो बालों में रूसी हो जाती है। रूसी के कारण बालों में कई तरह के रोग उम्पन्न हो जाते है। बाल झड़ने व पकने लगते हैं। सिर में फोड़े व फुन्सियां हो जाती है। अतः बालों में रूसी का तुरंत उपचार कर लेना चाहिए। रोग का कारण-स्वस्थ्य व सुन्दर बाल शरीर के लिए अनमोल देन हैं। लेकिन असंतुलित आहार व दूषित वातावरण के चलते बालों में अनेकों तरह के रोग हो जाते हैं। बालों को जब उचित पोषण नहीं मिलता है तो बालों में रूसी, बाल झड़ने व टूटने आदि की समस्या उत्पन्न हो जाती है। इसके अलावा उचित खान-पान, उचित वातावरण व उचित पोषण तत्वों के अभाव से भी बालों में रूसी हो जाया करती है। रोग के लक्षण-बालों में रूसी होने पर सिर में फोड़े-फुन्सी, खुजली, बाल टूटने, बाल झड़ने व असमय सफेद होने की समस्या उत्पन्न हो जाती है। सिर में खुजली होती है और सफेद छोटे-छोटे कण बालों से गिरते रहते हैं। यह हमेषा चिकनी व तैलीय खोपड़ी में होती है।

Dandruff (रुसी) Treatment Hindi

Best 21 Home Remedies For Dandruff

21 Gharelu Nuskhe For Dandruff

1 अण्डे की सफेदी में नींबू का रस मिलाकर सिर में एक घंटे के लिए लगाएं व बाद में धो डालें।

2 नीम की पत्तियों को गर्म पानी में डालकर खौलाएं। ठण्डा करके छान लें और इस पानी से बालों को धोएं।

3 रात को जैतून का तेल गर्म करके सिर में लगाएं और सुबह सिर धोने से एक घण्टा पहले नींबू का रस लगाएं तथा सिर धो लें।

4 जैतून का तेल 3 भाग व एक भाग शहद- इन दोनों को मिलाकर सिर तथा बालों में अच्छी तरह लगाएं। फिर सिर में गर्म पानी से भीगा तौलिया लपेटें और बाद में सिर अच्छी तरह औषधीय शैम्पू से धो लें।

5 रात को रीठे के बारीक टुकड़े पानी में भिगो दें। सुबह उसे उबालकर ठण्डा होने पर स्नान से पहले सिर में अच्छी तरह मल लें। रूसी दूर होगी।

6 त्रिफला चूर्ण के दो चम्मच 200 ग्राम पानी में रात को भिगो दें। सुबह इसे सिर के बालों की जड़ों में लगा दें। आधे घण्टे बाद गर्म पानी में नींबू का थोड़ा-सा रस मिलाकर सिर धो दें। सूखने पर इसमें तेल लगा दें।

7 अगर सिर में खुष्की हो तो नहाने से पहले दही में थोड़ा-सा सरसों का तेल मिलाकर सिर में रगड़ें, खुष्की-रूसी दूर होगी।

8 500-400ग्राम नारियल तेल को चार ग्राम कपूर मिलाकर रख लें। स्नान के बाद बालों के सूखने पर बालों की जड़ों में मलें। 3-4 दिन में ही रूसी साफ हो जाएगी।

9 अगर सामान्य औषधियुक्त शैम्पू से रूसी साफ नहीं होती तो ज्यादा तेज शैम्पू से सिर धो सकते हैं। लेकिन इनका ज्यादा प्रयोग नहीं करना चाहिए।

10 इस प्रकार के रोगी के लिए बादाम रोगन, अंगूर खासतौर पर किषमिष बहुत लाभदायक पदार्थ हैं। रोगी को फलों का रस पर्याप्त मात्रा में पीना चाहिए।

11 आंवले के चूर्ण व खसखस को अच्छी तरह पीसकर थोड़ा दूध या दही मिलाकर सिर में रगड़ें। खुष्की (रूसी) दूर होगी।

12 सामान्य औषधियुक्त शैम्पू से बालों को सप्ताह में 3-4 बार ही धोना चाहिए।13 एक कप सफेद सिरके में एक कप पानी मिलाकर इसे सिर में लगाएँ। पाँच मिनट बाद सिर ठण्डे पानी से धो लें।

14 भीगी हुई मुलतानी मिट्टी में थोड़ा कपूर पीसकर मिला लें। फिर बाल धोएँ। रूसी व जूँए समाप्त हो जाएँगी।

15 नारियल के तेल में नीबू, कपूर मिलाकर बालों में मालिष करें। रूसी दूर हो जाएगी।

16 दो बड़े नीबूओं के रस में आधा कप चिकनाई रहित दूध मिलाकर बालों में मलें। कुछ देर में सिर धो लें। सिर की खुष्की दूर हो जाएगी।

17 बालों में रूसी हो तो दही और कपूर से बालों को धोएँ। फायदा होगा।

18 बालों को धोने के बाद सिरके वाले पानी से धोएँ। पाँच-छः बार सिर धोएँ।बालों में रूसी दूर हो जाएगी और बाल चमकदार हो जाएँगे।

19 सिर धोने के पानी में थोड़ा-सा बोरेक्स मिला लें तो रूसी साफ हो जाएगी और बालों में चमक आ जाएगी।

20 दस ग्राम महीन पिसी काली मिर्च, बीस ग्राम नीबू का रस, आधा कप कच्चा दूध इन तीनों को मिलाकर बालों की जड़ों में अच्छी तरह मसलें। यह प्रयोग सप्ताह में तीन बार करें। सिर की रूसी समाप्त हो जाएगी।

21 सरसों के तेल में कपूर मिलाकर मालिष करें। रूसी दूर हो जाएगी।22 सिर धोने से पहले दही, नीबू व अण्डा मिलाकर सिर में रगड़ें, फिर सिर धोएँ। रूसी दूर हो जाएगी।23 रूसी हो तो कभी-कभी डिटाॅल की बूँदें डालकर सिर धोएँ।